Press "Enter" to skip to content

Posts published in “कानून और न्याय”

बहुत अधिक कानून, बहुत कम न्याय- प्रवीन कुमार

मैं अपने इस लेख के माध्यम से यह बताने की कोशिश करूँगा कि संविधान में परिभाषित समान न्याय और निशुल्क क़ानूनी सहायता कैसे अपने उदेश्यों…